बेदर्दी से चोदता है मेरा ससुर

Sasur Bahu Sex Story In Hindi : हेलो दोस्तों आज मैं आपको अपनी कहानी सुनाने जा रही हूं। मेरा बेरहम ससुर रोजाना मेरी चुदाई  करता है इसका कारण यह है दोस्तों कि मेरा पति पागल है मैं गरीब घर की लड़की हूं देखने में सुंदर हूं हॉट हूं और यह लोग जमींदार हैं।  पर मेरे पति के पागलपन का फायदा मेरा ससुर उठाता है और बोला ना मेरी चुदाई  करता है मुझे समझ नहीं आ रहा है मैं क्या करूं। 

 मैं अपने मायके में भी इस बात को बताई हूं अपनी मां से तो मेरी मां बोली है कि क्या करेगी बेटी थोड़े दिन की बात है फिर तुम ही रानी रहेगी तो थोड़ा मैनेज कर ले जब तेरा पति तुम्हें खुश कर ही नहीं पा रहा है और ससुर जब तुम्हें खुश करता है तेरे साथ सेक्स करता है तुम्हें तो यही कहूंगी कि घर के चारदीवारी के अंदर क्या पता किसके यहां क्या होता है इसलिए तू भी मैनेज कर ले और ससुर के खिलाफ नहीं जा बस जिंदगी के मजे ले मैं भी तो पूरी जिंदगी अपने ससुर के साथ ही सोई हूं तुमको शायद नहीं पता है तुम अपने बाप की भी नहीं बाबा की बिटिया दादा की बेटी है। 

 यह बात मैं तुम्हें सिर्फ इसलिए बता रही हूं कि जिंदगी में बहुत कुछ सहना पड़ता है आगे बढ़ने के लिए जिंदगी जीने के लिए इसलिए तू भी पहले और खूब मजे कर। 

 जब मेरी मां ने ही सारी बातें मुझे बता दो फिर मैं किसको बोलती है इसलिए मैं आज इस कहानी को मेरी सेक्स कहानी डॉट कॉम ताकि आप सभी  मेरी बात को समझ सको कि मेरे साथ क्या हो रहा है और क्या यह सही हो रहा है या गलत हो रहा है यह भी आप कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं। 

 अब मैं सीधे कहानी पर आती हूं.

 22 साल की हूं पिछले साल हुई है मेरी शादी जयपुर में हुई मेरे ससुराल में ससुर और  मेरे पति रहते हैं मेरी सांस इस दुनिया में नहीं है घर में और कोई सदस्य नहीं है मेरी शादी छुपा के कर दी गई यानी कि बताया नहीं गया था कि मेरे पति पागल शुरुआत में हम लोगों को पता नहीं चला हम लोगों को लगा कि शादी के समय उनकी तबीयत खराब हो गई है इस वजह से,  क्योंकि यह बात मेरे ससुर  बताए थे अभी तबीयत खराब हो गई है थोड़े दिन में ठीक हो जाएगा मेरे मां-बाप को लड़का नहीं मिलेगा जल्दी से जल्दी शादी भी हो गई काम धंधा है।  जमीन है तो एक मां बाप को और क्या चाहिए लड़कियों की शादी करते हैं तब यही चाहते हैं क्योंकि खुश रहे मेरी शादी हो रही थी तो मैं खुशी थी। 

 सुहागरात रात में सब कुछ उल्टा हो गया था।  जब वह मेरे साथ सेक्स नहीं कर पाए और मुझे कहने लगे कि मैं तुम्हें अपना बीवी नहीं बनाऊंगा मैं तुम्हें अपना बहन बना लूंगा क्योंकि बहन नहीं है मैं हैरान थी आखिर वह ऐसा क्यों बोल रहा है पहले तो लगा कि वह मजाक कर रहे हैं फिर बाद में कुछ सीरियस होकर राखी निकाल कर ले आये और बोले बाँध दो मेरी हाथ पर। 

दोस्तों मैं तो जीते जी मर गयी। उसमे बाद मेरे ससुर ने आकर कहा बहु अगर ये तंग करेगा तो कहना। धीरे धीरे ये सच में तंग करने लगे कहने लगे तुम्हे रात को मार दूंगा। गालिये देने लगे। फिर एक दिन रात को जैसे मेरी नींद खुल वो बड़ा छुरा लेकर खड़े थे मारने। मैं ससुर जी के कमरे में गयी। तो ससुर जी ए और फिर मेरे पति को दो तीन थपड़ दिए और बोले की चलो कल तुम्हे फिर भर्ती करता हु. तीन साल से तुम ठीक था पर फिर से तुम पागल हो गए। 

दोस्तों फिर से मेरे पति पागल हो गए थे जैसा की ससुर कह रहे थे।  दूसरे दिन वो पागलखाने में भर्ती करवा आये।  मैं बहुत रोई। अपने घर में सारी बात बताई तो वो लोग बोले समझ क्या कहेगा इसलिए चुप रहो. मैं चुप रही। 

एक दिन जब मैं सो रही थी तो ससुर जी मेरे कमरे में आ गए और मेरे ऊपर चढ़ गए और जबरदस्ती करने लगे। मैं मना करने लगी तो वो कहने लगे तेरे पास कोई चारा नहीं है। तुम्हरा पति तो पागल हो गया है। अब तुम्हे मेरे साथ से सम्बन्ध बनाने होंगे अगर तुम चाहती हु इतने राज पाट का मालकिन बनना है तो। 

उस रात तो मैं मना कर दी सेक्स सम्बन्ध बनाने को पर मुझे लगा की अगर मुझे यहाँ रहना होगा तो सेक्स सम्बन्ध बनाना ही होगा। ऐसे भी पति पागल है। 

तो दूसरे दिन मैं खुद ही दूध लेकर गयी ससुर जी के पास। और खुद ही उनको ऑफर कर दी। और उनके बगल में सो गयी। 

यहाँ से शुरू हुई मेरी चुदाई की कहानी। ससुर नई ने मुझे एक दुल्हन की तरह घूँघट उठाया मेरे गोद में अपना सर रखकर सोये। मेरे बालों को सहलाये मेरे होठ पर किस किये। मुझे एक सोने का चेन दिया जो मेरी सासु माँ का था। 

फिर उन्होंने मेरे एक एक करके कपडे उतारे और क्या था दोस्तों। वो मेरे ऊपर चढ़ गए मेरे जिस्म को खूब सहलए। और मेरी चूचियों को खूब दबोचा. मेरी चूत में जीभ डाल कर खूब चाटे। 

मैं जब कामुक हो गयी। वो मैं खुद ही उनके ऊपर चढ़ गयी. और उनके लंड से खेलने लगी।  उनके छाती को सहलाने लगी उनके होठ को चूसने लगी उनके मुँह में अपना जीभ डालने लगी। मेरे ससुर का लंड मोटा और लंबा है।  मुझे तो डर लग रहा था की इतना मोटा लंड मेरी चुत में जाएगा  तो दर्द कितना होगा। 

ससुर जी उसी पल मुझे निचे किये और चढ़ गयी पहले चूत चाटे बूबबस पीया और फिर अपना लंड मेरे चुत पर लगाया और फिर जोर से चोद दिया। ओह्ह्ह्ह जोर जोर से वो मेरी चुत में अपना लंड घुसाने लगा और जोर जोर से धक्के देने लगे। मैं खूब मजे लेने लगी पर बेदर्दी की तरह तो चोदने लगे। 

मेरा कमरा जांघ चूचियां चुत होठ गाल गर्दन कोई ऐसी जगह नहीं बची थी जहाँ उन्होंने चूसा नहीं अपने होठ से। कई जगह उन्होंने दांत का निशान भी लगा  दिया। 

चुदाई भी ऐसी की की दर्द के मारे छटपटा गयी। गांड में उन्होंने लंड गुसा दिया था थूक लगाकर।  मैं दर्द से कराह गयी। मेरी चुदाई उन्होंने ऐसी की पहले दिन की दूसरे दिन ना मैं सही से चल रही  थी ना लेट्रिन जा रही थी ना पेशाव कर पा रही थी। 

गांड चुत मुँह सब जगह पेला उन्होंने। पर आज आराम से ले पा रही हूँ फिर भी कई बार वो वाइल्ड हो जाते है तब संभालना मुश्किल हो जाता है। बाद में पता चला वो देशी दबाई लेते है चुदाई के पहले। 

मैं दूसरी कहानी जल्द ही आपको इस वेबसाइट पर www.merisexkahani.com  Sasur Bahu Sex Story In Hindi

23 thoughts on “बेदर्दी से चोदता है मेरा ससुर”

  1. ठीक है आपका काम तो चल रहा है गलत नहीं है
    बाहर से तो अच्छा है ।
    आपसे उन्हें अपना वंश मिल जाएगा ।
    बाहर मत जाना ।

    Reply

Leave a Comment